Press "Enter" to skip to content

राजधानी में तीन दिन में घटे 208 कंटेंनमेंट जोन, संख्या 496 पहुंची


केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के नए दिशा निर्देश जारी करने के तीन दिन में ही दिल्ली में 208 कंटेंनमेंट जोन घट गए। नए दिशा निर्देशों के अनुसार अब कंटेंनमेंट जोन अंतिम केस आने के 28 दिन की जगह 14 दिन बाद डी-सील कर दिया जा रहा है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने नए दिशा निर्देश संबंधी आदेश 29 जुलाई को जारी किए थे। उस दिन दिल्ली में कंटेंनमेंट जोन की संख्या 704 थी, जो 1 अगस्त को 496 पहुंच गई है। वहीं, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने भी कंटेंनमेंट जोन को री-डिजाइन करने को लेकर बैठक की थी।

इसके बाद दोबारा शनिवार को मुख्यमंत्री के आवास पर कंटेंनमेंट जोन की समीक्षा को लेकर बैठक बुलाई गई थी। राजस्व विभाग के अधिकारियों की तरफ से मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली में 715 कंटेंनमेंट जोन बन गए थे। इससे करीब 3 लाख 48 हजार 99 लोग प्रभावित हो रहे थे। अब कंटेंनमेंट जोन की संख्या कम होने और री-डिजाइन करने से 496 कंटेंनमेंट जोन रहने से प्रभावितों की संख्या 1 लाख 6 हजार 211 रह गई है। अधिकारियों ने बताया कि साउथ वेस्ट दिल्ली का राजनगर दिल्ली का सबसे बड़ा कंटेंनमेंट जोन था। यहां पर करीब 44 हजार की आबादी प्रभावित थाी। लेकिन अब कंटेंनमेंट जोन के री-डिजाइन करने के बाद सिर्फ 3 हजार लोग ही प्रभावित होगें। वहीं, उत्तर-पूर्वी दिल्ली का शास्त्री पार्क दूसरा बड़ा कंटेंनमेंट जोन था। यहां पर 36 हजार लोग प्रभावित थे, लेकिन अब री-डिजाइन के बाद 1200 लोग ही प्रभावित होगे।

लकंटेनमेंट जोन का दायरा बढ़ा होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। लोग नौकरी पर जाने के साथ-साथ जरूरी काम के लिए घर से बाहर नहीं निकल पा रहे थे। इससे बड़ी आबादी प्रभावित हो रही थी। अब कंटेंनमेंट जोन को री-डिजाइन करने से कम से कम लोग प्रभावित होंगे। – कैलाश गहलोत, राजस्व मंत्री, दिल्ली सरकार।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन बोले- यूपी में मरीज बढ़ने के बावजूद होटल खुले है, दिल्ली में बंद क्यों

राजधानी में अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार के होटल और साप्ताहिक बाजार खोलने के आदेश को उपराज्यपाल अनिल बैजल के पलटने के एक दिन बाद स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने उन पर सवाल उठाए है। शनिवार को सत्येन्द्र जैन ने कहा कि उत्तरप्रदेश में होटल खुले है। दिल्ली के आसपास नोएडा, गाजियाबाद और हरियाणा में होटल खुले हुए है। वहां कोरोना बढ़ रहा है। दिल्ली में कोरोना को नियंत्रित करने के साथ अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए सरकार कदम उठा रही है। यहां सरकार के होटल खोलने के आदेश को पलट दिया। एलजी साहब की मर्जी है। बता दें गुरुवार को दिल्ली सरकार ने होटल और ट्रायल बेस पर साप्ताहिक बाजार खोलने के आदेश जारी किए थे, जिसे 24 घंटे बाद ही उपराज्यपाल अनिल बैजल ने रोक लगा दी थी।

डिफेन्स कॉलोनी थाने के हेड कांस्टेबल की कोरोना से मौत

काेरोना वायरस की वजह से दिल्ली पुलिस के एक ओर जवान की मौत हो गई। मृतक की पहचान लीला धर के तौर पर हुई जो डिफेन्स कॉलोनी थाने में हेड कांस्टेबल थे। 11 जुलाई को इस पुलिसकर्मी को बुखार की शिकायत हुई थी, जिसे नजदीकी अस्पताल में दिखाया गया। बाद में उनका कोरोना का टेस्ट हुआ जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद उन्हें आइसोलेशन सेंटर, न्यू बिल्डिंग पुलिस स्टेशन शाहदरा में रखा गया। हालांकि, वहां उन्हें सांस लेने में परेशानी होने पर ताहिरपुर राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती करवा दिया था। 19 जुलाई से वह आईसीयू में थे, जिनकी बाकायदा प्लाज्मा थैरेपी भी हुई थी। इस सबके बावजूद भी वह कोरोना को मात नहीं दे सके और उनकी शुक्रवार रात को मौत हो गई।

Download Dainik Bhaskar App to be taught Most up-to-date Hindi Recordsdata In the present day

208 Containment Zone diminished to about a days, number reached 496 in Rajdhani

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *