Press "Enter" to skip to content

छह साल से बंद पड़ी पॉली क्लीनिक में शुरू होंगी स्वास्थ्य सेवाएं, करीब 2 लाख लोगों का होगा इलाज


एनआईटी और बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र के लोगों के लिए अच्छी खबर है। सेक्टर 55 में बनी पॉली क्लीनिक में जल्द ही स्वास्थ्य सेवाएं शुरू हो जाएंगी। 25 बेड वाले इस अस्पताल से करीब दो लाख से अधिक लोगों को फायदा होगा। अभी तक यह भवन राज्य सरकार ने कौशल विश्वकर्मा विश्वविद्यालय को दे रखा था। लेकिन एनआईटी के कांग्रेसी विधायक नीरज शर्मा के मुख्यमंत्री और राज्यपाल से लगातार गुहार लगाने और पॉली क्लीनिक खोलने की मांग को देखते हुए सरकार ने उक्त भवन को विश्वविद्यालय से खाली करा उसे स्वास्थ्य विभाग के हवाले कर दिया है। चूंकि अभी कोरोना संक्रमण को देखते हुए यहां आइसोलेशन वार्ड बनाया जा रहा है। कोरोन खत्म होते ही पॉली क्लीनिक में स्वास्थ्य सेवाएं शुरू कर दी जाएंगी।

यह है पूरा प्रोजेक्ट

स्थानीय लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने की लगातार उठ रही मांग पर तत्कालीन प्रदेश के श्रममंत्री एवं एनआईटी के विधायक शिवचरण लाल शर्मा ने सेक्टर-55 में पॉली क्लीनिक का निर्माण कराया था। इस भवन को बनाने में करीब 7-8 करोड़ रुपए खर्च किए गए थे। 25 बेड वाले इस पॉली क्लीनिक का भवन वर्ष 2014 में बनकर पूरी तरह से तैयार हो गया था। इसके बाद चुनाव आचार संहिता लागू हो गई थी। चुनाव में कांग्रेस को मिली हार के बाद प्रोजेक्ट अधर में लटक गया था। भाजपा सरकार आने पर सरकार ने इस भवन को कौशल विश्वकर्मा विश्वविद्यालय को सौंप दिया। इससे क्लीनिक का काम अधर में लटक गया।

विधायक ने सीएम से लेकर राज्यपाल तक लगाई गुहार

वर्ष-2019 में एनआईटी से कांग्रेसी विधायक बने नीरज शर्मा ने 4 नवम्बर 2019 को विधायक पद की शपथ ली। 5 नवंबर को विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान शर्मा ने इस मुद्दे को सरकार और राज्यपाल के सामने रखा। 19 नवंबर 2019 को प्रदेश सरकार में कौशल विकास के मंत्री मूलचंद शर्मा को पत्र कौशल विश्वकर्मा विश्वविद्यालय से भवन वापस लेकर अस्पताल बनाने की मांग की। 3 दिसंबर 2019 को फिर मंत्री मूलचंद शर्मा, स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज और मुख्यमंत्री मनोहर लाल को पत्र लिख इस मांग को उठाया। 11 फरवरी 2020 को कांग्रेस विधायक ने राज्यपाल को पत्र लिख इस भवन का इस्तेमाल अस्पताल के लिए करने की मांग की। 18 फरवरी 2020 को प्री बजट बहस में एक बार फिर यह मांग मुख्यमंत्री के सामने रखी। 5 जून 2020 को डीसी को पत्र लिख भवन खाली कराने को कहा। इन तमाम प्रयासों के बाद भवन कौशल विश्वकर्मा विश्वविद्यालय से खाली करा लिया गया है।

आधा दर्जन इलाकों के दो लाख लोगों को मिलेगी सुविधा
जानकारों का कहना है कि पॉली क्लीनिक के शुरू होने से बल्लभगढ़ क्षेत्र की राजीव कॉलोनी और संजय कॉलोनी समेत आसपास की अन्य कॉलोनियों का इसका लाभ मिलेगा। इन इलाकों में करीब दो लाख से अधिक की आबादी रहती है।

Download Dainik Bhaskar App to learn Most contemporary Hindi News This day

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *