Press "Enter" to skip to content

भाईयों की दीर्घायु के लिए बहनें आज मनाएंगी रक्षाबंधन का पर्व


भाई-बहन के पवित्र प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन पर्व सावन के आखिरी सोमवार को धूमधाम से मनाया जाएगा। कोरोना महामारी को देखते हुए इस पर्व को मनाने में थोड़ी सावधानियां भी बरतनी होंगी। बहनों व भाईयों को सैनिटाइजर कर मास्क लगाते हुए उचित दूरी बनानी होगी।

ज्योतिषाचार्यों का कहना है कि 29 वर्ष बाद सावन की पूर्णिमा व सावन के अंतिम सोमवार को रक्षाबंधन का पर्व कई शुभ योग लेकर आ रहा है। इस बार रक्षाबंधन पर भद्रा और ग्रहण का भी कोई साया नहीं है। रविवार की रात्रि 8 बजकर 43 मिनट से 3 अगस्त की प्रात: 9 बजकर 29 मिनट तक भद्रा रहेगी। उसके बाद ही रक्षाबंधन का पर्व प्रारंभ होगा। बहनों को इस समय के बाद ही अपने भाईयों को रक्षासूत्र पहनाना चाहिए। रविवार को भी शहर के मुख्य सदर बाजार व शॉपिंग माल्स आदि में भी राखियों की खरीददारी करने के लिए बहनें बड़ी संख्या में पहुंची।

Get Dainik Bhaskar App to learn Latest Hindi News Right this moment time

फ़िरोपुर झिरका. राखियों की खरीददारी करती बहने।

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *