Press "Enter" to skip to content

अब नीम से ढूंढा जा रहा कोरोना का इलाज, फरीदाबाद ईएसआई मेडिकल कॉलेज में शोध शुरू


हरियाणा में अनलॉक-3 का 7वां दिन है। प्रदेश में अब कोरोना का इलाज नीम से ढूंढने की कवायद शुरू हो गई है। इसके लिए फरीदाबाद में स्थित ईएसआई मेडिकल कॉलेज ने शोध शुरू कर दिया है। शोध में मेडिकल कॉलेज के 250 कर्मचारियों को शामिल किया गया है, जिसमें डॉक्टर, नर्स व दूसरा स्टाफ शामिल है। यह शोध केंद्र सरकार के अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान के सहयोग से किया जा रहा है। नतीजे सकारात्मक होने पर नीम को इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। मेडिकल कॉलेज के डिप्टी डीन डॉ. एके पांडे ने बताया कि कोरोना में नीम के प्रभाव को जानने के लिए हमने शोध शुरू किया है।

नीम की गोलियों की खुराक दी जाएगी
शोध में शामिल कर्मचारियों को 26 दिन तक नीम की गोलियों की 56 खुराक दी जाएगी। इस दौरान कर्मचारियों के लगातार कोरोना सैंपल भी लिए जाएंगे। साथ ही उनके खून की जांच भी की जाएगी। ताकि उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को देखा जा सके।

भिवानी में कोरोना की वजह से बोर्ड कर्मचारियों की छुट्टी
हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड भिवानी में एक कर्मचारी की पत्नी को कोरोना होने के बाद शुक्रवार को बोर्ड कर्मचारियों की छुट्टी कर दी गई। बोर्ड चेयरमेंन डॉ जगबीर सिंह ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि करोना के चलते पूरे बोर्ड में शुक्रवार को अवकाश घोषित किया गया है। कोरोना की चेन तोड़ने के लिए यह कदम उठाया गया है। पूरे बोर्ड को सैनिटाइज किया जा रहा है।

गुड़गांव में 15 अगस्त पर सम्मानित होने वाले लोगों का होगा कोरोना टेस्ट
15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस पर गुड़गांव में सम्मानित होने वाले लोगों का कोरोना टेस्ट करवाया जाएगा। इस संबंध में उपायुक्त अमित खत्री की अध्यक्षता में जिले के अधिकारियों की बैठक हुई, जिसमें यह फैसला लिया गया।

प्रदेश में पूरी 52 सवारियों के साथ रूट पर दौड़ी रोडवेज बसें
हरियाणा में शुक्रवार से रोडवेज बसें पूरी 52 सवारियों के साथ चलना शुरू हो गई। हरियाणा स्टेट ट्रांसपोर्ट के निदेशक ने गुरुवार को इस संबंध में आदेश जारी किए थे। कोरोना की वजह से पहले हरियाणा रोडवेज में 30 सवारियों को बैठाने की अनुमति दी गई थी। अब सभी 52 सीटों पर सवारियां बैठ सकती हैं। हालांकि बसों को अच्छे तरीके से सैनिटाइजेशन करके भेजे जाने का आदेश भी दिया गया है। यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी और मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है।

प्रदेश में ये है कोरोना की स्थिति
गुरुवार को प्रदेशभर में 755 नए मामलों के साथ कोरोना संक्रमितों की संख्या 39 हजार के पार पहुंच गई। राहत की बात यह है कि 680 मरीज ठीक होकर घर लौटे और 3 मरीजों ने दम तोड़ा। गुरुवार को संक्रमितों का आंकड़ा 39,303 पर पहुंच गया है, जबकि 32,640 मरीज ठीक हो चुके हैं। अब 6205 मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

अब तक 458 मरीजों की कोरोना से मौत
प्रदेश में अब तक 458 मरीजों की मौत हुई है, इनमें 325 पुरूष और 133 महिला शामिल हैं। अभी तक फरीदाबाद में 139, गुड़गांव में 125, सोनीपत में 33, रोहतक में 24, अंबाला में 18, पानीपत में 19, नूंह, झज्जर व करनाल में 12-12, हिसार व नूंह में 10-10, पलवल में 9, रेवाड़ी व कुरुक्षेत्र में 8-8, सिरसा में 7, भिवानी में 6, जींद में 5, फतेहाबाद, पंचकूला व यमुनानगर में 3-3, तथा नारनौल व चरखी-दादरी में 1-1 मरीज की मौत हो चुकी है।

Ranking Dainik Bhaskar App to read Most up-to-date Hindi News Nowadays

फरीदाबाद का ईएसआई मेडिकल कॉलेज, जहां नीम को लेकर शोध शुरू हुआ है।

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *