Press "Enter" to skip to content

पैसे लेकर बिजली का बिल कम करने के आरोप में 1 जेई सहित 4 कर्मी सस्पेंड


बिजली निगम भ्रष्टाचार जोरों पर है। प्रदेश सरकार ने हाल ही तहसीलदार व नायब तहसीलदारों को रजिस्ट्री में गोलमाल करने के आरोप में सस्पेंड किया था। लेकिन अब बिजली निगम के भ्रष्टाचारी कर्मचारियों का नंबर आ गया है। दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम मुख्यालय कि ओर से गुरुवार को चार कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया है। सभी कर्मचारी साउथसिटी सब डिविज़न में कार्यरत है।

सस्पेंड हुए कर्मचारियों में जेई विजेंदर सिंह, क्लर्क जितेंद्र, शमीम खान और लाइनमैन पवन कुमार शामिल है। ये सभी कर्मचारी काफ़ी समय से इस सब डिविज़न में तैनात थे। इन पर पैसे लेकर उपभोक्ताओं के बिजली बिल कम करने सम्बंधी विभागीय जांच चल रही थी। जांच पूरी होने पर गुरुवार को मुख्यालय की ओर से इन्हें निलंबित करने की कार्रवाई की गई है। हालांकि इस मामले में डीएचबीवीएन सर्कल-2 के अधिकारियों ने चुप्पी साधी हुई है। एक्सईएन सचिन यादव और एसई जोगिंदर हुड्डा इस बारे में कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। दोनों एक दूसरे का नाम लेकर ख़ुद को इस विवाद से दूर रख रहे हैं। बिजली निगम में लंबे समय बाद भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई हुई है। इससे पहले सरकार भ्र्ष्ट अधिकारियों को बचाते रही है। जल्द ही अन्य भ्रष्ट अधिकारियों पर भी गाज गिरने की संभावना जताई जा रही है।

Fetch Dainik Bhaskar App to learn Most modern Hindi Info At the unusual time

More from NewsMore posts in News »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *