Press "Enter" to skip to content

दुष्यंत चौटाला और अनिल विज की खींचतान के बीच पहली बार बोले सीएम-जांच में नाम आने पर हर शख्स पर होगी कार्रवाई


शराब घोटाले को लेकर गृह मंत्री अनिल विज और डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के बीच तनातनी पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल का पहला बयान सामने आया है। फरीदाबाद में एक स्कूल के उद्घाटन के बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान सीएम मनोहर लाल ने कहा कि भ्रष्टाचार किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। शराब घोटाले की जांच में जिसका भी नाम सामने आएगा उस पर कार्रवाई होगी। डिप्टी सीएम द्वारा रिपोर्ट का खंडन करने पर उन्होंने कहा कि किसी के मानने या नहीं मानने से व्यवस्थाएं नहीं चलतीं हैं। गृह विभाग को विशेष जांच दल की टीम ने जांच रिपोर्ट सौंपी है। अब रिपोर्ट के आधार पर आगे की जांच की जाएगी।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान लगाए गए लॉकडाउन में हरियाणा के सोनीपत में सामने आए हाईलेवल के शराब घोटाले में बड़े खुलासे हुए हैं। हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने की मानें तो एसईटी की जांच में सामने आया है कि शराब की तस्करी पंजाब व अन्य पड़ोसी राज्यों से हुई। 2011-12 से यह एक्साइज विभाग की लापरवाही व पुलिस की ढिलाई के चलते ऐसा हो रहा है।

दरअसल, लॉकडाउन के दौरान हरियाणा के बहुचर्चित शराब घोटाले में विशेष जांच दल की रिपोर्ट एक बार फिर कार्रवाई की सिफारिश के साथ गृह मंत्री अनिल विज के पास पहुंच गई है। 31 जुलाई को एसईटी ने अपनी रिपोर्ट गृह मंत्री अनिल बिज को सौंपी है। करीब दो हजार पन्नों की रिपोर्ट पलटने के बाद गृह मंत्री ने रिपोर्ट गृह सचिव को भेज कर यह पूछा था कि यह बताया जाए कि कार्रवाई किन बिंदुओं पर की जाए। अब इस मामले में गृह सचिव ने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है और रिपोर्ट गृह मंत्री के पास पहुंच गई है। वहीं, हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने इस रिपोर्ट का खंडन किया है।

Accumulate Dainik Bhaskar App to read Most modern Hindi News In the present day time

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर। उन्होंने शराब घोटाले में बिना पक्षपात कार्रवाई की बात कही है।

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *