Press "Enter" to skip to content

नगर निगम कार्यप्रणाली में सुधार के लिए अफसरों की जिम्मेवारियों में किया बदलाव


नगर निगम की निष्क्रिय पड़ी कार्यप्रणाली को सुधारने के लिए निगम कमिश्नर विनय प्रताप सिंह द्वारा अधिकारियों का समायोजन किया गया है। कमिश्नर द्वारा जारी आदेशों में संयुक्त आयुक्त-2 जितेन्द्र कुमार को संयुक्त आयुक्त-1 की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसी प्रकार डीआरओ एवं संयुक्त आयुक्त-3 हरीओम अत्री को संयुक्त आयुक्त (मुख्यालय) का अतिरिक्त कार्यभार दिया गया है।

कार्यकारी अभियंता(बागवानी) देवेन्द्र कुमार भड़ाना को जोन-2 व 3 में पार्कों एवं ग्रीन बैल्टों की मरम्मत एवं रख-रखाव की जिम्मेदारी के साथ ही तालाबों के कायाकल्प, रेन वाटर हारवैस्टिंग, इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर प्रोजैक्ट तथा माइक्रो एसटीपी की जिम्मेदारी सौंपी गई है। कार्यकारी अभियंता (बागवानी) अमरजीत बिस्ला जोन-1 और जोन-4 में पार्कों एवं ग्रीन बैल्टों की मरम्मत एवं रख-रखाव, वेस्ट टू आर्ट प्रोजेक्ट, मेनेजमैंट ऑफ अरावली बायोडायवर्सिटी पार्क(एबीडीपी) एंड स्टेट बायोडायवर्सिटी प्रोजैक्ट(एसबीडीपी), अर्बन आर्ट प्रोजैक्ट,

ट्रीटिड वेस्ट वाटर का पुन: उपयोग तथा प्लास्टिक वेस्ट टू रोड़ प्रोजैक्ट की जिम्मेदारी दी गई है। इसी तरह से अतिरिक्त निगमायुक्त-4 जसप्रीत कौर को बायोडायवर्सिटी पार्क संबंधी मामलों तथा रिसाइकिल्ड पानी का पुन: प्रयोग के लिए नोडल अधिकारी बनाया गया है। इसके अलावा, अतिरिक्त निगमायुक्त-1 सुरेन्द्र कुमार को वाटर एवं सीवरेज बिलिंग मामलों, आयुध डिपो के प्रतिबंधित क्षेत्र संबंधी मामलों तथा प्रॉपर्टी टैक्स संबंधी मामलों के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। एडीशनल म्यूनिसिपल कमिशनर रोहताश बिश्रोई को ई-माध्यमों से प्राप्त होने वाली सभी प्रकार की शिकायतों के लिए नोडल अधिकारी की जिम्मेदारी दी गई है तथा स्ट्रीट लाईटिंग प्रबंधन संबंधी मामलों की जिम्मेदारी निगम कमिश्नर ने अपने पास रखी है। ये आदेश तुरंत प्रभाव से लागू किए गए हैं।

Get Dainik Bhaskar App to read Most well-liked Hindi Recordsdata This day

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *