Press "Enter" to skip to content

पार्षद के कार्यालय में घुसकर बदमाशों ने चलाई गोली, थाना से 500 मी. दूर दिया वारदात को अंजाम


सोहना में इस समय बदमाशों का आतंक बढ़ता जा रहा है। बदमाशों में पुलिस का खौफ भी नहीं है। सोमवार को पुलिस स्टेशन से मात्र 500 मीटर दूरी पर अज्ञात बदमाशों ने कार्यालय में बैठे पूर्व पार्षद पर गोली चला दी। इस हमले में पार्षद बाल-बाल बच गए। वहीं बदमाश वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। आसपास के लोगों के अनुसार पांच-छह युवक स्कोर्पियो में सवार होकर आए थे और हमला कर उसी गाड़ी से फरार हो गए। हालांकि इस वारदात के बाद सोहना शहर व सोहना रोड, अलवर रोड, पलवल रोड व तावडू रोड पर नाकेबंदी कर दी गई। लेकिन देर शाम तक पुलिस खाक छानती रही। इस महीने में यह बदमाशों द्वारा तीसरी गोली चलाने की वारदात है। पूर्व पार्षद हरीश नंदा सोमवार दोपहर को अपने कार्यालय में थे, कि अचानक उनके पास एक फोन आया। फोन पर एक अज्ञात युवक ने उन्हें देवीलाल स्टेडियम के नजदीक बुलाया। जहां पर पार्षद के पहुंचने के बाद उन्होंने उसे कार्यालय में चलने को कहा और बदमाश पार्षद के साथ उसके कार्यालय में आ गए। कार्यालय में आने के बाद बदमाशों ने पार्षद के साथ गाली गलौज शुरू कर दी।

इस दौरान एक बदमाश ने अपनी जेब से रिवाल्वर निकालकर पार्षद पर गोली चला दी। गोली पार्षद के पास से गुजरती हुई दीवार में जा टकराई। शोर-शराबा सुनकर बदमाश मौके से भाग गए। इस हमले में पुलिस को सूचना मिलने पर क्राइम ब्रांच की टीम व सोहना पुलिस मौके पर पहुंची। कार्यालय में लगी सीसीटीवी कैमरे को टीम ने खंगाला, जिसमें बदमाश भागते हुए नजर आ रहे आ रहे हैं। एसीपी संदीप मलिक ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने अपनी जांच शुरू कर दी है। कार्यालय में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है, बदमाशों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिए जाएंगे।

सीसीटीवी कैमरे में भागते हुए कैद हुए बदमाश

पुलिस वारदात की सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है, जिसमें बदमाश भागते हुए नजर आए हैं। हालांकि यह पार्षद को डराने वारदात भी हो सकती है। पुलिस ने पार्षद से भी वारदात को लेकर किसी से रंजिश आदि के बारे में पता लगाने का प्रयास किया है। इस मामले में क्राइम ब्रांच व पुलिस स्टेशन की चार टीमें बदमाशों की तलाश कर रही हैं।

5 दिन पहले भाई-बहन पर दिन-दहाड़े चलाई थी गोली

सोहना में छह दिन पहले एक भाई-बहन पर एक बदमाश ने चेन स्नेचिंग में सफल नहीं होने पर बदमाश ने गोली चला दी थी। हालांकि बाद में युवक ने बदमाश को अपनी जान की बाजी लगाकर पकड़ लिया था। जिसके लिए पुलिस कमिश्नर ने युवक को पांच हजार रुपए का नकद ईनाम देकर सम्मानित किया।

Download Dainik Bhaskar App to be taught Most up-to-date Hindi Records This day

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *