Press "Enter" to skip to content

फरीदाबाद और गुड़गांव में करीब साढ़े 4 महीने बाद खुले सभी धार्मिक स्थल, जाने से पहले नियम जरूर जान लें


हरियाणा में अनलॉक-3 का 12वां दिन है। फरीदाबाद और गुड़गांव के लिए जन्माष्टमी का त्योहार खुशी लेकर आया है। यहां बीते चार महीने से बंद मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे और गिरिजाघर बुधवार को खुल गए। जिला प्रशासन ने अनलॉक-3 की गाइडलाइन मिलते ही इन्हें खोलने की अनुमति दे दी है। हालांकि कुछ नियम जरूर लागू किए गए हैं।

धार्मिक स्थल पर जाने से पहले ये नियम जरूर पढ़ लें

  • केवल उन्हें ही प्रवेश मिलेगा, जिनमें कोरोना के लक्षण नहीं हैं।
  • धार्मिक स्थल पर प्रवेश से पहले हाथ और पैर साबुन से धोना जरुरी होगा।
  • प्रवेश द्वार पर ही तापमान चैक किया जाएगा।
  • घंटी बजाने व मूर्ति छूने की मनाही होगी।
  • मास्क लगाना जरुरी होगा।
  • लाइन लगाते हुए 6 फीट की दूरी रखनी होगी।
  • गर्भवती महिलाओं व 65 साल से अधिक की उम्र के बुजुर्गों को आने की मनाही।
  • परिसर में थूकने पर पूरी तरह से पाबंदी है।
  • पवित्र जल का छिड़काव भी नहीं होगा।
  • धार्मिक स्थलों को लगाता सैनिटाइज किया जाएगा।
  • कोरोना की जागरुकता संबंधी पोस्टर या बैनर लगाने होंगे।
  • वाहनों की पार्किंग में भीड़ नहीं लगानी होगी।
  • एसी की टैंपरेचर 24 से 30 डिग्री सेल्सियस पर रखा जा सकता है।
  • सामूहिक कार्यक्रम किसी भी धार्मिक स्थल में नहीं होगा।

प्रदेश में ये है कोरोना की मौजूदा स्थिति
प्रदेश में अभी तक 500 लोगों की मौत कोरोना की वजह से हो चुकी है। मंगलवार को 11 मरीजों ने दम तोड़ा तो 798 नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 43 हजार के पार पहुंच गई। जबकि 590 मरीज ठीक होकर घर लौटे, जिससे रिकवरी रेट 83 फीसद के पार स्थिर बना हुआ है। वहीं 135 मरीजों की हालत चिंताजनक बनी हुई है। इनमें 113 मरीजों की सांसें ऑक्सीजन के सहारे चल रही हैं तो 22 वेंटीलेटर पर जिंदगी जंग लड़ रहे हैं। मंगलवार को प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 43227 पर पहुंच गया, जबकि 36082 मरीज कोरोना को हरा चुके हैं।

अब तक 500 मरीजों की कोरोना से मौत
प्रदेश में अभी तक 500 मरीजों की मौत हुई है, इनमें 357 पुरूष और 143 महिला शामिल हैं। अभी तक फरीदाबाद में 144, गुड़गांव में 126, सोनीपत में 35, रोहतक में 24, पानीपत में 27, अंबाला में 20, रेवाड़ी मेंद 14, करनाल में 13, कुरुक्षेत्र, नूंह व झज्जर में 12-12,, हिसार व पलवल में 10-10, सिरसा में 7, भिवानी व यमुनानगर में 8-8, जींद में 6, फतेहाबाद में 4, पंचकूला में 3, कैथल में 2 तथा नारनौल व चरखी-दादरी में 1-1 मरीज की मौत हो चुकी है।

Obtain Dainik Bhaskar App to learn Most modern Hindi Files This day

फरीदाबाद में सजाया गया श्रीबांके बिहारी मंदिर।

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *