Press "Enter" to skip to content

जिन मंदिरों में हजारों कंठों से ‘नंद के आनंद भयो’ उद्घोष गूंजते थे, इस जन्मोत्सव पर वहां जड़े हैं ताले, स्वतंत्रता दिवस की तैयारियां शुरू


कहा जाता है जो बंधन में वह है जीव है। जो बंधन मुक्त है वह कृष्ण है। कंस के कारागृह में जन्में कान्हा ने माता-पिता को कारागृह से अर्जुन को अज्ञान के बंधनों से मुक्त किया। प्रेम में बांधने वाले योगेश्वर कृष्ण की ही सीख है, प्रेम सब बंधनों से मुक्त करता है। हे योगेश्वर, यह कैसी लीला है? जिन मंदिरों में हजारों कंठों से ‘नंद के आनंद भयो…’उद्घोष गूंजते रहे हैं, इस जन्मोत्सव पर वहां ताले जड़े हैं। फोटो बीकानेर के केईएम रोड स्थित श्री लक्ष्मीनारायण मंदिर की है।

जन्माष्टमी पर्व मनाया

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर शहर के प्रसिद्ध गोपाल मंदिर में भगवान श्री राधा-कृष्ण का शृंगार बेशकीमती ऐतिहासिक आभूषणों से किया गया। 2007 में इन आभूषणों की कीमत 100 करोड़ रुपए आंकी गई थी। सोने का भाव दोगुना से अधिक होने के कारण अब इनकी कीमत 200 करोड़ से ज्यादा है।

जग के मालिक ले रहे दुनिया में अवतार

कोरोना संक्रमण के बीच बुधवार को अमृतसर सहित देशभर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन दिवस पर मंदिरों में खासी रौनक रही। श्रद्धालुओं ने मंदिरों में पहुंचकर श्रीकृष्ण का आशीर्वाद लिया। गोल्डन लाइटिंग से सजाए गए दुर्ग्याणा मंदिर की स्वर्णिम आभा देखने लायक रही। शिवाला बाग भाइयां में कान्हा की मूर्तियों और झांकियों का शृंगार मनमोहक रहा।

जन्माष्टमी पर कोरोना का असर

कोरोना के कारण जन्माष्टमी पर सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक के बीच उज्जैन के शहीद पार्क में होने वाले आयोजन में बुधवार को अनायास अनूठापन आ गया। प्रतिबंध के कारण शाम 6 बजे प्रतीकात्मक कार्यक्रम रखा था। 12 फीट ऊंची मटकी बांधी गई। उसी समय वहां गजराज (हाथी) का आगमन हो गया। महावत से जब आग्रह किया- गजराज से मटकी फुड़वाना है, तो वे तैयार हो गए। बस महावत के इशारे पर गजराज ने अपनी सूंड ऊंची की और मटकी फोड़ दी।

दिल्ली में पतंगों का क्रेज

देश की राजधानी दिल्ली में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पतंगों का क्रेज भी रहा है, लेकिन लोगों को कोरोना काल में सुरक्षा भी ध्यान रखनी होगी। कोरोना संक्रमण के चलते स्वतंत्रता दिवस का कार्यक्रम इस बार छत्रसाल स्टेडियम की बजाए आईटीओ स्थित दिल्ली सचिवालय में शनिवार को आयोजित होगा। इसमें करीब 100 प्रमुख लोगों को आमंत्रित किया जाएगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल होंगे।

कोरोना काल में स्वतंत्रता दिवस

शनिवार को देशभर में आजादी का पर्व स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से मनाया जाएगा। इसको लेकर देश की राजधानी में तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। बुधवार को लाल किले पर तैयारियों के लिए कई कर्मचारी जुटे रहे। इस बार कोरोना के चलते स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम में ज्यादा लोग एकत्रित नहीं होंगे।

ट्रक पलटा: चालक और क्लीनर जख्मी

झारखंड के पलामू जिले के पांकी थाना क्षेत्र की ताल पंचायत में झरियाही पुल के पास बुधवार सुबह रिफाइन तेल से भरा ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गया। इससे काफी मात्रा में तेल बह गया। इधर ग्रामीणों में रिफाइन लूटने की होड़ मच गई। 200 से ज्यादा संख्या में ग्रामीण घर से बाल्टी, जार, कंटेनर लेकर घटनास्थल पर दौड़ पड़े। ग्रामीण करीब आधा ट्रक तेल पर हाथ साफ कर लिया। जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पांकी पुलिस ने तेल की लूट मचा रहे ग्रामीणों को भगाया। घटना में ट्रक चालक संतोष राय और खलासी को चोटें आई हैं।

न करें जल्दबाजी

बिहार के भागलपुर में इंटर में नामांकन के दौरान छात्राओं में कोरोना का संक्रमण न फैले, इसके लिए एसएम कॉलेज प्रबंधन ने काउंटर के बाद एक-एक मीटर पर घेरा बना रखा था। इसमें छात्राओं को खड़ा होना था। लेकिन नामांकन में भीड़ जुटी तो छात्राएं कोरोना के डर को भूल गईं। कोई घेरे में खड़ी नहीं हुईं। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हुआ। कॉलेज प्रबंधन ने भी इसपर ध्यान नहीं दिया। अभी नामांकन 17 अगस्त तक चलेगा। इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर ही एडमिशन लें। यही घेरा कोरोना से बचाएगा।

नवगछिया के 35 गांव अनुमंडल मुख्यालय से कटे

यह नवगछिया अनुमंडल के इस्माइलपुर प्रखंड के डिमहा गांव की तस्वीर है। गंगा के सैलाब के बीच अनुमंडल के करीब 35 गांव घिर गए हैं। ये सभी गांवों का संपर्क अनुमंडल मुख्यालय से कट गया है। गंगा इस्माइलपुर में बुधवार को खतरे के निशान 31. 60 मीटर से दो सेंटीमीटर ऊपर बह रही थी। बाढ़ से घिरे गांवों के लिए नाव ही आवागमन का सहारा है। हालांकि पिछले दो दिनों में इस्माइलपुर में गंगा के जलस्तर में 10 सेंटीमीटर की कमी आयी है, लेकिन लोगों की परेशानी कम नहीं हो रही है।

Gain Dainik Bhaskar App to read Most up-to-date Hindi Data This day

Temples whereby thousands of lanterns historical to chant ‘Nanda ke Anand Bhayo’, there are locks on this birth anniversary, preparations started for Independence Day

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *