Press "Enter" to skip to content

कैंसर इलाज के लिए इंजेक्शन का दिया आर्डर, पहुंचाने गए युवक को लूटा, 4 आरोपी गिरफ्तार


कैंसर जैसी बीमारी में इस्तेमाल होने वाले महंगे इंजेक्शन लूटने वाले एक गैंग का खुलासा हुआ हुआ है। मामले में पुलिस ने चार युवकों को अरेस्ट किया है, जिनमें तीन पूर्व फार्मा कर्मचारी हैं, जबकि एक इंजेक्शन खरीदने वाला। इनके पास से चार लूटे गए इंजेक्शन बरामद कर लिये हैं। आरोपियों की पहचान अमन शर्मा, विकास स्वामी, साकिब खान और प्रभू झा के तौर पर हुई।

आरोपी मौजपुर, लक्ष्मी नगर और खजूरी खास निवासी है। साउथ-ईस्ट डिस्ट्रिक्ट डीसीपी आरपी मीणा ने बताया 13 अगस्त को भागीरथ पैलेस स्थित फार्मास्युटिकल्स कंपनी के मैनेजर गोविंद दास ने सन लाइट कॉलोनी थाने में दी। पुलिस को बताया एक शख्स ने उनकी कंपनी को फोन कर कैंसर के इंजेक्शन खरीदने का ऑर्डर दिया। इंजेक्शन लाल किले के पास मंगवाए गए थे। मोहम्मद अनस लाल किले के पास इंजेक्शन देने पहुँच गया। इंजेक्शन का आर्डर देने वाले सुधीर ने पेमेंट ओखला में देने की बात कही। यहाँ से दोनों स्कूटी पर बैठ निकल गए। रास्ते में अनस बाइक सवार बदमाशों ने पिस्तौल दिखा और मारपीट कर इंजेक्शन लूट फरार हो गए।

सीसीटीवी फुटेज और मोबाइल नंबर से पकड़े गए

स्पेशल स्टाफ इंस्पेक्टर ऐशवीर सिंह की टीम ने घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी फुटेज और कॉल करने वाले शख्स का नंबर खंगाला। फ़ोन करने वाले की लोकेशन मौजपुर और पांडव नगर में मिली। पुलिस को एक सूचना पर आरोपियों को रविवार को कालिंदी कुंज के पास ट्रैप लगा स्कूटी और बाइक सवार तीन आरोपियों को पकड़ लिया। इनकी निशानदेही इंजेक्शन खरीदने वाले प्रभू झा को गीता कॉलोनी एरिया से अरेस्ट कर लिया गया।

बरामद हुए इंजेक्शन की कीमत डेढ़ लाख रुपये है। डीसीपी ने बताया मौजपुर निवासी आरोपी अमन शर्मा लूट का मुख्य सरगना है। आरोपी विकास मौजपुर इलाके में ही किराये पर रहता है। दोनों आरोपी पहले फार्मा कंपनी में दवा डिलीवरी का काम करते थे। आरोपियों ने इंजेक्शन ध्रुव झा और प्रभु झा को 1.10 लाख रुपये में बेच दिये। लॉकडाउन में काम छूट जाने की वजह से इन्होंने लूट का प्लान बनाया था।

Download Dainik Bhaskar App to learn Most modern Hindi News These days

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *