Press "Enter" to skip to content

डीजेबी का 26.80 मिलियन लीटर का यूजीआर साल के अंत तक शुरू होगा,35 लाख की आबादी को मिलेगी राहत


दिल्ली जल बोर्ड (डीजेबी) के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने मंगलवार को सोनिया विहार के देश के सबसे बड़े 635 मिलियन प्रतिदिन क्षमता के वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट और 26.80 मिलियन लीटर क्षमता के भूमिगत जलाशय का दौरा एवं निरीक्षण किया। इस अवसर पर चड्ढा ने कहा बरसात के कारण यमुना और गंगा से आने वाले कच्चे पानी में गाद और गंदगी बढ़ जाती है। मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि दिल्ली जल बोर्ड की टीम लगातार काम कर रही है ताकि दिल्ली के नागरिकों को पेयजल की गुणवत्ता से किसी भी प्रकार का समझौता किसी भी कीमत पर न करना पड़े। इसके अलावा उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि सोनिया विहार भूमिगत जलाशय का कार्य शीघ्रता से पूर्ण करें। चड्ढा ने अधिकारियों को तीन महीने के अंदर प्रोजेक्ट के काम पूरा करने के निर्देश दिए।

35 एकड़ में फैला यूजीआर
डीजेबी के अधिकारियों ने बताया कि सोनिया विहार का भूमिगत जलाशय (यूजीआर) 26.80 मिलियन लीटर क्षमता का है। इसकी लागत करीब 36 करोड़ रुपए है। यह जलाशय 35 एकड़ में फैला है।
35 लाख लोगों की जलापूर्ति होगी पूरी
भूमिगत जलाशय के चालू होने से मुस्तफाबाद क्षेत्र और सोनिया विहार के आसपास के निवासियों को पर्याप्त दबाव के साथ जल वितरण किया जा सके। इससे करीब 35 लाख की आबादी को पानी की आपूर्ति होगी। यहां से अनधिकृत कालोनियों जैसे शिव विहार, अंकुर एंक्लेव, महालक्ष्मी एंक्लेव, जौहरी पुर, दयालपूर, भगतसिंह कालोनी, जियाउद्दीन नगर, अंबेडकर नगर, भागीरथी विहार, नेहरू विहार आदि क्षेत्रों के लगभग 6 लाख निवासियों को पानी का समान वितरण एवं जलापूर्ति समुचित दबाव पर उपलब्ध होगी।

Download Dainik Bhaskar App to be taught Most smartly-liked Hindi Recordsdata Recently

DJB’s 26.80 million liter UGR to originate up by the discontinue of the year, 35 lakh inhabitants will uncover relief

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *