Press "Enter" to skip to content

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच के आदेश दिए; कहा- निष्पक्ष जांच से उन बेकसूरों को इंसाफ मिलेगा, जो बदनाम करने की कैंपेन के शिकार हुए


एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच सीबीआई ही करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को यह आदेश दिया। कोर्ट ने कहा “निष्पक्ष जांच के जरिए सही बातें सामने आएंगी तो, निश्चित ही उन बेकसूरों को इंसाफ मिलेगा, जो बदनाम करने की कैंपेन के शिकार हुए हैं। सीबीआई जांच के फैसले से पिटीशनर (रिया) को भी न्याय मिल पाएगा, क्योंकि उन्होंने खुद भी इसकी मांग की थी।” सुशांत की गर्लफ्रेंड रह चुकीं रिया चक्रवर्ती ने पटना की जांच को मुंबई ट्रांसफर करने की अपील की थी।

सुप्रीम कोर्ट के 35 पेज के आदेश की 4 बड़ी बातें
1.
बिहार पुलिस ने जो एफआईआर दर्ज की, वह सही थी।
2. सीबीआई जांच की सिफारिश भी कानून के मुताबिक की गई।
3. मुंबई पुलिस जांच में सहयोग करे, जो भी सबूत जुटाए हैं, उन्हें सीबीआई को सौंपे।
4. कोई और एफआईआर दर्ज होती है तो, उसकी जांच भी सीबीआई करेगी।

कोर्ट के 3 कमेंट
1. सुशांत टैलेंटेड एक्टर थे, पूरी क्षमताएं दिखाने का मौका मिलने से पहले ही उनकी मौत हो गई। सुशांत के परिवार के लोग, दोस्त और फैन्स जांच के नतीजों का इंतजार कर रहे हैं, ताकि अटकलें खत्म हो सकें।
2. निष्पक्ष और प्रभावी जांच जरूरी है। इससे शिकायत करने वाले (सुशांत के पिता) को भी न्याय मिल पाएगा, जिन्होंने अपना बेटा खोया है।
3. जब सच का उजाला होता है तो, न्याय भी अलग नहीं रह सकता। अब दिवंगत आत्मा को भी शांति मिलेगी। सत्यमेव जयते।

अब आगे क्या?
सीबीआई मुंबई पुलिस को चिट्ठी लिखकर कहेगी कि पिछले 2 महीने में जो भी सबूत जुटाए हैं, वे सौंपे जाएं। न्यूज एजेंसी आईएएनएस के सूत्रों के मुताबिक सीबीआई यह मांग भी करेगी कि मुंबई पुलिस ने जिन-जिन लोगों के बयान दर्ज किए और इस मामले से जुड़े जो भी गैजेट्स हैं, उन्हें सौंपा जाए।

रिया ने कहा- कोई भी एजेंसी जांच करे, सच नहीं बदलेगा
रिया के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा, “रिया जरूरत पड़ने पर सीबीआई के सामने पेश होंगी। उन्होंने मुंबई पुलिस और ईडी को भी सहयोग किया था। रिया ने कहा है कि भले ही कोई भी एजेंसी जांच करे, लेकिन सच नहीं बदलेगा।”

नीतीश कुमार ने कहा- इस मामले का चुनाव से कोई मतलब नहीं
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, “इस मामले का राजनीति से कोई रिश्ता नहीं, बल्कि कानून से है। यह साबित हो गया कि लोगों को न्यायसंगत बात करनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट के फैसले से साफ हो गया कि हमने जो भी कदम उठाए, वे सही थे। यह न्याय की जीत है। अब सही तरीके से जांच होगी और न्याय मिलेगा, इसका हमें भरोसा है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद किसी और की बात की कोई वैल्यू नहीं। इस मामले का चुनाव से कोई रिश्ता नहीं है।

अपडेट्स

  • एक्टर अक्षय कुमार ने कहा- हमेशा सच की जीत होनी चाहिए
  • शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, “कोर्ट के फैसले पर राजनीतिक प्रतिक्रिया नहीं दे सकते। महाराष्ट्र देश की सबसे अच्छी न्याय व्यवस्था वाले राज्यों में से एक है। कानून से ऊपर कोई नहीं है।”
  • भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा, “निष्पक्ष जांच होने से सुशांत की आत्मा को शांति मिलेगी। उनके पिता और परिवार के लोगों ने भी काफी साहस दिखाया। उम्मीद है सीबीआई तय समय में जांच पूरी कर लेगी।”
  • सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ट्वीट किया- “भगवान आपका शुक्रिया! आपने सभी की प्रार्थना सुन ली!! लेकिन, यह शुरुआत है…सच की तरफ पहला कदम है। सीबीआई पर पूरा भरोसा है।”

##

  • बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने कहा, “सुप्रीम कोर्ट का फैसला 130 करोड़ भारतीयों की भावना की जीत है। सुशांत के केस में हमने अभी तक जो काम किया वह कानूनी रूप से किया। हमारा अफसर मुंबई गया तो उसे क्वारैंटाइन कर दिया गया, यह गलत था।”

सीबीआई जांच को लेकर रिया ने पहले क्या कहा था?
रिया ने कहा था कि बिहार में की जा रही जांच को आधार मानते हुए सीबीआई को केस ट्रांसफर करना गैर-कानूनी है। अगर कोर्ट खुद सीबीआई से जांच करवाने का फैसला लेता है, तो फिर कोई आपत्ति नहीं होगी।

केंद्र सरकार ने क्या जवाब दिया था?
सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा था कि सीबीआई जांच का फैसला सही है। मेहता ने मुंबई पुलिस के तरीके पर भी सवाल उठाए थे। उनका कहना था कि मुंबई पुलिस ने कोई एफआईआर दर्ज नहीं की, फिर 56 लोगों को समन भेजकर उनके बयान दर्ज कैसे कर लिए?

केस ट्रांसफर मामले में किसने क्या जवाब दिया था?
बिहार सरकार:
राज्य सरकार की तरफ से पूर्व एडिशनल सॉलिसिटर जनरल मनिंदर सिंह ने कहा था कि बिहार के मुख्यमंत्री ने इस मामले में कोई दखल नहीं दिया। सीबीआई जांच की सिफारिश संबंधित अफसरों की सलाह पर की गई थी।

रिया के वकील: उन्होंने बिहार पुलिस के केस पर सवाल उठाए थे। उनका कहना था कि इस मामले का बिहार पुलिस की एफआईआर से कोई कनेक्शन नहीं है। वहां भेदभाव होने की आशंका है। स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

महाराष्ट्र सरकार: वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने जवाब दिया था कि राज्य सरकार ने बंद लिफाफे में जांच रिपोर्ट सौंप दी है। बिहार सरकार ने यह केस बड़ी आसानी से अपने यहां ट्रांसफर कर लिया, जबकि यह उसके न्याय क्षेत्र में नहीं आता।

रिया चक्रवर्ती: पटना पुलिस के केस को जीरो एफआईआर मानते हुए इसे मुंबई ट्रांसफर किया जाए। सुशांत के पिता ने मुझ पर गलत आरोप लगाए हैं। मेरे सभी फाइनेंशियल ट्रांजैक्शंस एकदम साफ हैं।

सुशांत के पिता: केके सिंह ने अपने वकील नितिन सलूजा के जरिए एफिडेविट देकर कहा था कि रिया ने गवाहों पर असर डालना शुरू कर दिया है। उसने सीबीआई जांच की बात से भी यू-टर्न ले लिया।

बिहार सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की थी
सुशांत के पिता केके सिंह ने रिया के खिलाफ पटना में एफआईआर दर्ज करवाई थी। उनका आरोप है कि रिया ने सुशांत को आत्महत्या के लिए उकसाया। दूसरी तरफ बिहार सरकार ने इस मामले में सीबीआई जांच की सिफारिश की थी, जिसे केंद्र ने मान लिया। उसके बाद सीबीआई ने रिया समेत कुछ लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था।

सुशांत का शव 14 जून को मुंबई में उनके फ्लैट में लटका मिला था। पुलिस ने इसे आत्महत्या का केस बताया। लेकिन, सुशांत के फैन्स, परिवार वालों और कई नेताओं ने हत्या का शक जताते हुए सीबीआई जांच की मांग उठाई थी।

ये खबरें भी पढ़ सकते हैं…

1. सुशांत की मौत में नया दावा:पूर्व मैनेजर ने कहा- सुशांत को स्टाफ ने मिलकर मारा, वे दरवाजा बंद करके नहीं सोते थे; भाई नीरज बोले- गवाहों की हत्या हो सकती है

2. सुशांत केस में ईडी के सूत्रों का दावा:एक्टर ने दो-तीन साल में 30-35 करोड़ रुपए कमाए थे, न वे आर्थिक तंगी में थे और न ही उन्हें काम मिलने में दिक्कत हो रही थी

3. रिया चक्रवर्ती का नया दावा:एक्ट्रेस के वकील ने कहा- मौत से पहले सुशांत फोन पर रोते थे, परिवार को मुंबई बुला रहे थे, जब उनकी बहन आने को तैयार हुईं तो उन्होंने रिया को उनके घर भेज दिया

Gain Dainik Bhaskar App to learn Most as a lot as the moment Hindi News At the present time

सुशांत की गर्लफ्रेंड रहीं रिया चक्रवर्ती ने पटना में दर्ज केस को मुंबई ट्रांसफर करने की अपील की थी। सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर उन्होंने कहा कि कोई भी एजेंसी जांच कर ले, सच नहीं बदलेगा। (फाइल फोटो)

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *