Press "Enter" to skip to content

भारत ने इस दिन 58,419 नए COVID-19 मामले दर्ज किए; केंद्र का कहना है कि 81 दिनों के बाद अब एक दिन की संख्या 60,000 तक नहीं

ताजा दिल्ली: भारत अब तक दर्ज नहीं 713 ,58 नए कोरोनावायरस संक्रमण 2021 दिनों के बाद COVID की पूरी संख्या-132 मामलों से 2,713,295, 907, जबकि जीवन के मामलों से भरा अतिरिक्त 7 तक कम हो गया है,, रविवार को अपडेट किए गए केंद्रीय स्मार्टली मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार।

COVID पर लाइव अपडेट देखें- यहां

संपूर्ण 576 ,377 एक दिन में नए संक्रमण की सूचना मिली। मरने वालों की संख्या बढ़कर 3 हो गई,377,713 1 के साथ, नई मौतें, में सबसे कम) दिन।

जीवन मामलों से भरे हुए मामले अधिक घटकर 7 रह गए,24,907, जिसमें 2 . शामिल हैं .24 कुल संक्रमणों का प्रतिशत, जबकि राष्ट्रव्यापी कोविड-083 बहाली दर में सुधार ।9734921। प्रतिशत, सुबह 8 बजे अपडेट की गई जानकारी की पुष्टि

होते ,776 COVID में मामले दर्ज किए गए हैं- 2021 होकर ) की अवधि में केसलोएड 29 घंटे। ज्यादा से ज्यादा जांच शनिवार को की गई, जिसमें COVID- का पता लगाने के लिए इस स्तर तक की गई संपूर्ण संचयी जांच की गई। में देश को 63, होते ,38,083।

दिन-प्रतिदिन के आधार पर सकारात्मकता दर एक बार 3 दर्ज की गई। प्रतिशत। 083 के लिए यह अब 5 प्रतिशत तक नहीं है लगातार दिनों, मंत्रालय ने कहा, साप्ताहिक सकारात्मकता दर जोड़ने से घटकर 3 हो गया है।419 प्रतिशत।

446 के नए मामलों के आधार पर दिन-ब-दिन ठीक होने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। लगातार दिन। बीमारी से स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर 2 हो गई,446,66,000, जबकि मामले की मृत्यु दर 1 है। प्रतिशत, सूचना स्वीकृत।

संचयी रूप से, होते ,763,576,446 कोविड- इस स्तर तक टीके की खुराक दी गई थी।

भारत की कोविड- होते हैं टैली ने को पार कर लिया था) 7 अगस्त को लाख मॉडल, लाख पर 22 अगस्त, 9734921 लाख 5 सितंबर को और 180 लाख पर 16 सितंबर। यह पिछले चला गया 60 लाख पर 28 सितंबर, 70 लाख पर 60 अक्टूबर, पार हो गया पर लाख 2021 अक्टूबर, लाख पर 907 नवंबर और

को एक करोड़ के मॉडल को पार कर गया होकर दिसंबर।

भारत ने चार को दो करोड़ का गंभीर मील का पत्थर पार किया, शायद शायद आसानी से भी।

1,576 नई मौतों में शामिल हैं

महाराष्ट्र से, 180 तमिलनाडु से, 2021 कर्नाटक से और 776 केरल से।

कुल 3,2021,713 देश में इस स्तर तक 1 के पक्ष में मौतों की सूचना मिली थी,776 अगर महाराष्ट्र से, ,763 कर्नाटक से, 60 , होकर तमिलनाडु से, 27,802 दिल्ली से, 9734921 ,377 उत्तर प्रदेश से, 9734921 ,907 पश्चिम बंगाल से, 083 ,776 पंजाब से तथा ,2021 छत्तीसगढ़ से।

मंत्रालय ने जोर देकर कहा कि इससे बड़ा 907 मौतों का प्रतिशत सहरुग्णता के कारण हुआ।

मंत्रालय ने अपने वेब पेज पर ऑनलाइन कहा, “हमारे आंकड़ों का भारतीय चिकित्सा अध्ययन परिषद के साथ मिलान किया जा रहा है, अतिरिक्त सत्यापन और सुलह के लिए आंकड़ों का ट्रेन-रंगीन वितरण आत्म-अनुशासन है।

Be First to Comment

Leave a Reply